Anemia Disease in Hindi - एनीमिया (खून की कमी) किस विटामिन की कमी से होता है?

 
Anemia Disease in Hindi - एनीमिया (खून की कमी) किस विटामिन की कमी से होता है?
Anemia Disease in Hindi - एनीमिया (खून की कमी) किस विटामिन की कमी से होता है?

एनीमिया एक रोग है जिसमें खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा कम हो जाती है, जिस कारण शरीर के अंगों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नही पहुँच पाता है। यह रोग खून में "रेड ब्लड सेल्स" (RBC) की कमी के कारण, या शरीर मे विटामिन-B12 और विटामिन-B9 की कमी से एनीमिया होने की संभावना बढ़ जाती है. एनीमिया के कुछ सामान्य लक्षणों में थकान, पेट में दर्द, चक्कर आना, और छाती में दर्द शामिल हो सकते हैं।

इस आर्टिकल में हम यह जानेंगे कि एनीमिया किस विटामिन की कमी से होता होता है तथा इसके मुख्य लक्षण क्या है और इससे किस तरह बचाओ किया जा सकता है.


एनीमिया का मुख्य कारण क्या है? - What is The Main Cause Of Anemia?

आयरन की कमी - Iron Deficiency

यह सबसे सामान्य कारण है, जिसमें शरीर में आयरन की मात्रा कम हो जाती है और इसके कारण रेड ब्लड सेल्स ठीक से बन नहीं पाती है, जिससे व्यक्ति को एनीमिया हो जाता है।

विटामिन-B12 की कमी - Vitamin-B12 Deficiency

शरीर मे विटामिन-B12 की कमी होने से भी एनीमिया होने की संभावना होती है, जिससे "मेगालोब्लास्टिक एनीमिया" हो सकती है।

फॉलेट की कमी - Folate Deficiency

फॉलेट शरीर मे "रेड ब्लड सेल्स" (RBC) को उत्पन्न करने में मदद करता है, और इसकी कमी भी एनीमिया का कारण बन सकती है।

एनीमिया के पांच लक्षण क्या हैं? - What are the Five Symptoms of Anemia?

एनीमिया के लक्षण व्यक्ति के शारीरिक स्वास्थ्य और रक्त की स्थिति पर निर्भर करता हैं। यहाँ पर एनीमिया के मुख्य लक्षणो को बताया गया है-

1. थकान और ऊर्जा की कमी - Fatigue and Lack of Energy

एनीमिया से पीड़ित व्यक्ति को अधिक थकान, ऊर्जा की कमी और कमजोरी का एहसास हो सकता है।

2. पालोर (मुख की पीलापन) - Palor (pallor of the face)

रक्त में हेमोग्लोबिन की कमी के कारण त्वचा में पीलापन या पालोर हो सकता है।

3. चक्कर आना - Dizziness

ऑक्सीजन की कमी के कारण चक्कर आना भी एनीमिया का एक लक्षण हो सकता है।

4. चिड़चिड़ापन और इरिटेबिलिटी - Irritability

एनीमिया से पीड़ित व्यक्ति में मानसिक स्वास्थ्य में बदलाव हो सकता है, जैसे कि चिड़चिड़ापन और इरिटेबिलिटी।

5. छाती में दर्द और सांस में तकलीफ - Chest Pain and Shortness of Breath

यदि व्यक्ति एनीमिया गंभीर हो, तो छाती में दर्द, सांस में तकलीफ, और हृदय संबंधित समस्याएं भी हो सकती हैं।

6. बुढ़ापे में तेजी से थकान - Rapid Fatigue in Old Age

यह लक्षण वृद्धावस्था में हो सकता है, जब रक्त की उत्पत्ति में कमी होने के कारण ऊर्जा की पूर्ति नही हो पाती है।

एनीमिया से बचने के लिए कौन सा खाना खाना चाहिए? - Which Food should be Eaten to Avoid Anemia?


एनीमिया से बचने लिए एक स्वस्थ और उपयुक्त आहार बहुत महत्वपूर्ण है। यहां कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जो आयरन, विटामिन बी12, और फोलेट एसिड की सही मात्रा प्रदान करके रक्त स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद कर सकते हैं:

1. पालक - Spinach

पालक में भरपूर आयरन, विटामिन बी12, और फोलेट एसिड होते हैं, जो रक्त बनाने में मदद करते हैं। इसलिए पालक का नियमित सेवन करना चाहिए।

2. अंजीर - Fig

अंजीर में भी आयरन और फोलेट एसिड होता हैं जो शरीर मे हेमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है, और कमजोरी को दूर करता है।

3. दालें - Pulses

मसूर दाल, काली दाल, और चने में भी अच्छी मात्रा में आयरन, फोलेट एसिड और विटामिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है, इसलिए एनीमिया से बचने के लिए दालों का सेवन जरूर करे।

4. मोटे अनाज - Coarse Grains

मोटे अनाजो में आयरन की अच्छी मात्रा होती है, जैसे कि बाजरा, जौ, और राजमा।


5.फल और सब्जियां - Fruits and Vegetables

खजूर, आम, ग्वावा, अदरक, गोभी, आलू, गाजर, जैसे फलो और सब्जियां में भी आयरन और फोलेट की अच्छी मात्रा पायी जाती है, जो रक्त की कमी को दूर करती है।

6. दूध और उससे बने उत्पाद - Milk and Milk Products

दूध, दही, छाछ, और पनीर में भी आयरन और विटामिन बी12 होता है, जो हेमोग्लोबिन को बनाने में सहायता करता है।

7. संतरा और नींबू - Orange and Lemon

ये फल विटामिन सी से भरपूर होते हैं, जो आयरन को अच्छी तरह से अवशोषित करने में मदद करता है।

इन आहारों को अपने भोजन में शामिल करके एनीमिया से बचाव किया जा सकता है।

Read More

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.